सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

अभी यहाँ कुछ नहीं हैI एक जोड़ें अभी!

The Lord Jesus Christ Is Come | The Voice of God | Hindi Christian Movie Trailer "द्वार पर दस्तक"

The Lord Jesus Christ Is Come | The Voice of God | Hindi Christian Movie Trailer "द्वार पर दस्तक"

Two thousand years ago, the Lord Jesus prophesied, "And at midnight there was a cry made, Behold, the bridegroom comes; go you out to meet him" (Matthew 25:6). "Behold, I stand at the door, and knock: if any man hear my voice, and open the door, I will come in to him, and will sup with him, and he with me" (Revelation 3:20). For the last two thousand years, believers in the Lord have been watchful and awaiting the Lord's knock on the door, so how will He knock on mankind's door when He returns? In the last days, some people have testified that the Lord Jesus has returned—Almighty God incarnate—and that He is doing the work of judgment in the last days. This news has rocked the entire religious world.

Yang Aiguang, the protagonist of the film, has believed in the Lord for decades and has always been enthusiastically engaged in work and preaching, waiting to welcome the Lord's return. One day, two people come and knock on the door, tell Yang Aiguang and her husband that the Lord Jesus has returned, and share the words of Almighty God with them. They are deeply moved by Almighty God's words, but because Yang Aiguang has been subjected to the fallacies, deception, and strictures of the pastors and elders, she throws the witnesses of The Church of Almighty God out of the house. After that, the witnesses knock on their door on many occasions and read the words of Almighty God to Yang Aiguang, bearing witness to God's work in the last days. During this time, the pastor disrupts and hinders Yang Aiguang time after time, and she continues to waver. However, through hearing the words of Almighty God, Yang Aiguang comes to understand the truth and gains discernment regarding the rumors and fallacies propagated by the pastors and elders. She finally understands how the Lord knocks on people's doors during His return in the last days, and how we should welcome Him. When the fog clears, Yang Aiguang finally hears the voice of God and acknowledges that Almighty God really is the return of the Lord Jesus!

अनुशंसित: The True Meaning of Faith in God | Hindi Gospel Movie | "परमेश्वर में आस्था" (Hindi Dubbed)

https://hi.easternlightning.org/videos/faith-in-god.html

चमकती पूर्वी बिजली, सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का सृजन सर्वशक्तिमान परमेश्वर के प्रकट होने और उनका काम, परमेश्वर यीशु के दूसरे आगमन, अंतिम दिनों के मसीह की वजह से किया गया था। यह उन सभी लोगों से बना है जो अंतिम दिनों में सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कार्य को स्वीकार करते हैं और उसके वचनों के द्वारा जीते और बचाए जाते हैं। यह पूरी तरह से सर्वशक्तिमान परमेश्वर द्वारा व्यक्तिगत रूप से स्थापित किया गया था और चरवाहे के रूप में उन्हीं के द्वारा नेतृत्व किया जाता है। इसे निश्चित रूप से किसी मानव द्वारा नहीं बनाया गया था। मसीह ही सत्य, मार्ग और जीवन है। परमेश्वर की भेड़ परमेश्वर की आवाज़ सुनती है। जब तक आप सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों को पढ़ते हैं, आप देखेंगे कि परमेश्वर प्रकट हो गए हैं।

विशेष वक्तव्य: यह वीडियो प्रस्तुति सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया द्वारा लाभ-के-लिए-नहीं (नॉट-फॉर प्रॉफिट) रचना के रूप में तैयार की गई थी। इस प्रस्तुति में दिखाई देने वाले अभिनेता लाभ-के-लिए-नहीं आधार पर अभिनय कर रहे हैं, और उन्हें किसी भी तरह से भुगतान नहीं किया गया है। यह वीडियो किसी भी तीसरे पक्ष को लाभ के लिए वितरित नहीं किया जा सकता है, और हमें आशा है कि हर कोई इसे खुले तौर पर साझा और वितरित करेगा। जब आप इसे वितरित करते हैं, तो कृपया स्रोत पर ध्यान दें। सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कलीसिया की सहमति के बिना, कोई भी संगठन, सामाजिक समूह या व्यक्ति इस वीडियो की सामग्री के साथ छेड़छाड़ नहीं कर सकता है या इसे गलत तरीके से प्रस्तुत नहीं कर सकता है।

इस वीडियो की कुछ सामग्री इसमें से है:

Vidsplay.com

The Bible verses found in this video are partly from Hindi OV: and all the copyright of the Bible verses from Hindi OV belong to Bible Society India. With due legal permission, they are used in this production.